किताबों का तोहफा, दुनियाँ की सबसे क़ीमती उपहार- तूरज ज़ैदी
अल् दीनदार शम्सी म्यूज़ियम एंड रिसर्च सेंटर को मिला उपहार स्वरूप 50 पुस्तकें

लखनऊ। ग़ाज़ीपुर। सेवराई। आदरणीय मुख्यमंत्री श्री योगी जी महाराज की सरकार के सफलतम 100 दिन पूर्ण होने के उपलक्ष में सरकार की नीति सबका साथ, सबका विकास, सबको सम्मान के तहत आज मंगलवार लखनऊ स्थित कार्यालय “फखरुद्दीन मेमोरियल कमेटी भाषा विभाग उत्तर प्रदेश सरकार” के अध्यक्ष/चैयरमैन दर्जा प्राप्त मंत्री उत्तर प्रदेश शासन, आली जनाब सै.अतहर सगीर ज़ैदी (तूरज ज़ैदी) साहब ने उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ीपुर में दिलदारनगर स्थित मशहूर लाइब्रेरी “अल् दीनदार शम्सी म्यूज़ियम एंड रिसर्च सेंटर” में पुस्तक प्रेमियों, शोध छात्रों, क्षेत्रीय अवाम व बच्चों की तालीम के लिए उर्दू अदब की 50 किताबें बतौर तोहफा भेंट स्वरूप प्रदान किया।
म्यूज़ियम एंड रिसर्च सेंटर के निदेशक कुँअर मुहम्मद नसीम रज़ा ख़ाँ से मुलाक़ात में उन्होंने कहा कि समाज और इनके बच्चे किताबों से इल्म हांसिल करके अपनी जिंदगी को रौशन कर सकते हैं। पुस्तकें दुनियाँ की सर्वश्रेष्ठ उपहारों में से एक है तथा पुस्तकालय एक माध्यम!
मंत्री तूरज़ ज़ैदी के इस कार्य शैली से अल्पसंख्यक समाज में हर्ष है, इन्होंने अपनी एक अलग पहचान बनाई है।
लाइब्रेरी परिवार मंत्री तूरज़ ज़ैदी साहब का दिल की गहराइयों से आभार प्रकट करता है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!