Apna Uttar Pradesh

तो ये हैं छठ पर्व के जाबाज…

गाज़ीपुर। छठ का महापर्व जितना महान है उतना ही कठिन भी। छठ के पर्व पर महिलाएं व्रत रखती है और पुरुष अपने घरों डौरी में प्रसाद का समान रख, ऊंख के साथ गंगा घाट पर पहुंचते हैं। इसके लिए गंगा घाटों पर साफ सफाई, सुरक्षा का इंतजाम किया जाता है। इस अवसर पर घाटों को सजाया जाता है। ये सभी कार्य स्थानीय समाजसेवियों और प्रशासन के सहयोग से किया जाता है।

इसी क्रम में इस बार ऐसे कार्य करने वालों को एसडीएम और तहसीलदार की तरफ से सम्मानित किया गया। गाज़ीपुर शहर के नवापुरा घाट पर काफी भीड़ होती है। ऐसे में वहां साफ सफाई, सुरक्षा व्यवस्था, लाइटिंग, सजावट का इंतजाम करना एक बड़ी चुनौती है। लेकिन इस चुनौती का सामना करते हुए, छठ के महापर्व को सफल में बनाकर कुछ युवाओं ने मिशाल कायम कर दिया है, तो सदर तहसीलदार अभिषेक कुमार द्वारा उप जिलाधिकारी प्रतिभा मिश्रा की मौजूदगी में इन्हे सम्मानित भी किया गया।

तहसीलदार अभिषेक कुमार ने डाला छठ के अध्यक्ष दीपक चौहान, युवा समाजसेवी अभिषेक यादव, रवि मौर्य, रवि गुप्ता, रजनीश मिश्रा, अवधेश शाहू, किशन मौर्या, राजू मोदनवाल इत्यादि को माला पहनाकर व अंग वस्त्रम देकर सम्मानित किया।

युवा समाजसेवी अभिषेक यादव और उनके साथी लगातार समाज हित की सेवाएं करते हुए नजर आते रहते हैं चाहे अस्पताल में मरीजों के बीच फल और दूध का वितरण हो या रक्तदान हो या किसी असहाय और मजबूर की मदद करना हो। अभिषेक यादव इस में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं।

छठ पूजा के अवसर पर जिस तरह की व्यवस्था नवापुरा घाट पर की गई थी उसे देखकर हर श्रद्धालु व्यवस्था करने वाले की प्रशंसा कर रहा था। अभिषेक यादव और उनकी टीम की लगन का नतीजा था कि छठ पर्व पर किसी श्रद्धालु को कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा।

हमारे समाज में ऐसे युवा समाजसेवियों की आवश्यकता है जो समाज को एक नई दिशा दे सकते हैं।

Leave a Reply