ब्यूरो/गाज़ीपुर। मजबूत कानून व्यवस्था के दम एक बार फिर से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाकर भाजपा ने इतिहास तो रच ही दिया है, अब योगी सरकार कानून व्यवस्था और मजबूत करने पर जोर दे रही है और कानून व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए शासन की ओर से ठोस कदम भी उठाया जा रहा है। इसी क्रम में गाज़ीपुर में कुछ नई पुलिस चौकी और थाना बनाने का प्रस्ताव शासन के पास गया है।

जनपद में बने फोरलेन एवं सिक्स लेन पर आवागमन करने वाले राहगीरों को सुरक्षा के साथ दुर्घटना के समय उन्हें तत्काल मदद पहुंचाने के लिए पुलिस चौकी स्थापित कराने का कार्य किया जा रहा है। सैदपुर कोतवाली क्षेत्र के दो इलाकों एवं नंदगंज के एक इलाकों को चिह्नित कर चौकी स्थापित कराने के लिए कुछ दिन पूर्व प्रस्ताव भेजा गया था। शासन की ओर से इन दोनों क्षेत्रों के पैकवली, पचरासी और गौरारी को नई पुलिस चौकी बनाने के लिए स्वीकृति प्रदान की गई है।

वर्तमान समय में करीब 42 पुलिस चौकियां हैं। इनके स्थापित हो जाने से इसकी संख्या 45 पहुंच जाएगी। वहीं रामपुरमांझा को थाना बनाने के लिए भेजे गए प्रस्ताव पर मुहर लगने का इंतजार विभाग द्वारा किया जा रहा है। साथ ही हंसराजपुर नया थाना बनाने के लिए कागजी कार्रवाई पुलिस विभाग द्वारा तेज कर दी गई है, जिससे प्रस्ताव शासन को भेजा जा सके।

एक लाख की आबादी पर होता है थाना

एक लाख की आबादी पर थाना स्थापित कराया जाता है। यहीं नहीं थाना स्थापित होने के बाद उस के उपर करीब 35 से 40 गांवों के सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है। वहीं नई पुलिस चौकी उन स्थानों पर स्थापित कराई जाती है, जहां से थानों की दूरी अधिक हो और वहां आपराधिक घटनाओं के होने की संभावना ज्यादा है। इस आधार पर जगह चिह्नित किया जाता है।

खबर के अनुसार गाज़ीपुर के एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी ने कहा कि “शासन से मंजूरी मिलने के बाद तीन नई चौकियां बनेगी। वहीं रामपुरमांझा नया थाना बनाने के लिए प्रस्ताव गया है। संभावना है कि जल्द ही इसको स्थापित कराने के लिए मुहर लग सकता है।”

Leave a Reply

error: Content is protected !!