Report: Haseen Ansari

गाजीपुर। हर साल की भांति इस साल भी शाह फैज़ विद्यालय के प्रांगण में बुधवार को विद्यालय की संस्थापिका सईदा फैज़ की पुण्य तिथि मनाई गयी। कार्यक्रम का प्रारम्भ सर्व धर्म प्रार्थना से किया गया। जिसमें इस्लाम धर्म के प्रार्थना आदिल नवाज़ खान, हिन्दू धर्म की प्रार्थना प्रियंका राय, सिख धर्म की प्रार्थना रश्मि श्रीवास्तव व ईसाई धर्म की प्रार्थना चंदना श्रीवास्तव ने किया। सभी धर्मों की प्रार्थना में एक ही बात सामने आयी कि आत्मा अजर अमर है, ईश्वर सर्वोपरी है और मनुष्य को हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए ताकि उसके जाने के बाद लोग उसे उसके अच्छे कर्मों के लिए याद करें। आज हिंदी दिवस भी है जिसके लिए विद्यालय के निदेशक डॉ नदीम अदहमी ने सबको बधाई दी। निदेशक डॉ नदीम अदहमी ने मैडम फैज़ कि स्मृतियों को याद करते हुए बताया कि मैडम फैज़ ने इस विद्यालय को बहुत ही कठिनाइयों में शुरू किया।

वह समय बहुत ही संघर्ष भरा रहा। विद्यालय के मैनेजिंग कमेटी के अध्यक्ष मज़हर हुसैन ने कहा की उनका चरित्र ऐसा था कि वक्त भी उनकी गुलामी करता था। विद्यालय की मैनेजर मैडम अतिया अदहमी ने उन्हें याद करते हुए कहा कि उन्होंने हमेशा लड़कियों की शिक्षा व महिलाओं के उत्थान को प्रोत्साहित किया एवं उस दिशा में कार्य किया। स्मृतियों के इसी क्रम में समाजसेवी सरदार दर्शन सिंह ने कहा कि मैडम फैज़ का उद्देश्य था कि अगर हमें विद्यार्थियों को एक अच्छा नागरिक बनाना है तो सबसे पहले हमें अपने अंदर सुधार की आवश्यकता है। विशिष्ट अतिथि सना अदहमी ने कहा कि मैडम फैज़ सबको बहुत प्यार करती थीं और जो काम ठान लेती थीं उसे पूरा करती थीं। सहायक मैनेजर डॉ मीना अदहमी ने कहा कि मैडम फैज़ हर काम पूरी तन्मयता से करती थीं और किसी भी काम को ग़ैर ज़रूरी नहीं मानती थीं। कितना भी कठिन कार्य हो हिम्मत नहीं हारती थीं।

विद्यालय की प्रधानाचार्या तस्नीम कौसर ने भी अपने विचार साझा किये। उन्होंने बताया कि मैडम ने अपने कार्य से हर ह्रदय में जगह बनाया। विद्यालय के शिक्षक इकरामुल हक़ ने बताया कि मैडम हमेशा गरीबों को शिक्षित करना चाहती थीं व शिक्षकों को हमेशा अपने आपमें सुधार लाने के लिए प्रेरित करती रहती थीं।

कार्यक्रम के सम्पन होने के बाद ज़रूरत मंदों की सहायता के लिए विद्यालय से अनाज, दवाई व कपड़े लेकर शिक्षकों की तीन टीम मदरसा, प्रभु की रसोई, चर्च व गुरुद्वारा भेजा गया। इस टीम में शोएब, मासूम जावेद, अंकुर श्रीवास्तव, राजेश, चन्दन प्रसाद, चंदना श्रीवास्तव व रश्मि श्रीवास्तव सम्मिलित थे।

इस कार्यक्रम में विद्यालय के मैनेजिंग कमेटी सदस्य शम्सी तथा सभी शैक्षणिक व ग़ैर शैक्षणिक कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!