नोएडा में भ्रष्टाचार की नींव पर खड़ा सुपरटेक ट्विन टॉवर जमींदोज हो चुका है। इस इमारत को गिराने के लिए करीब 3700 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था। जैसे ही दोपहर के 2ः30 बजे, एक तेज धमाके के साथ पूरी इमारत ढह गई। 32 मंजिला इमारत को गिरने में महज आठ सेकंड का वक्त लगा। इसके बाद कई किलोमीटर तक धूल का गुबार फैल गया।

ट्विन टावरों के जमींदोज होने का बाद चारों तरफ धूल का गुबार फैल गया। धूल का गुबार अनुमान से भी ज्यादा है, यह एक्सप्रेस वे तक फैल गया है। धूल को कम करने के लिए लगातार पानी का छिड़काव किया जा रहा है। धुंध छंटने के बाद विशेषज्ञों की टीम नुकसान का आंकलन करेगी। 

Leave a Reply

error: Content is protected !!