Special Report || उत्तर सरकार में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के तिरंगा वाले बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि दंगे का युग समाप्त हो गया है। भाजपा के बढ़ते जनाधार से अखिलेश यादव घबरा गए है। अखिलेश यादव का स्वास्थ्य ठीक नहीं है। उन्हें आराम करने की जरूरत है।

दरअसल, अखिलेश यादव लखनऊ में जनेश्वर मिश्रा पार्क में उनकी जयंती पर उन्हें पुष्प अर्पित करने के लिए पहुंचे थे। उसके के बाद सपा प्रमुख ने केंद्र सरकार के ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के बारे में कहा, ‘‘देश को यह एहसास करना होगा कि भाजपा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की राजनीतिक शाखा है और यदि हम उनका (आरएसएस) इतिहास देखें तो उन्होंने वर्षों तक अपने स्थान पर तिरंगा झंडा नहीं लगाया।” उन्होंने कहा, ‘‘मैं आगाह करना चाहता हूं कि भाजपा तिरंगा यात्रा के नाम पर दंगे करवा सकती है। आप सभी को याद रखना चाहिए कि कासगंज में क्या हुआ। जैसे भाजपा कार्यकर्ताओं ने तिरंगा यात्रा के नाम पर दंगे किए।”

उल्लेखनीय है कि कासगंज में मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में तिरंगा मोटरसाइकिल रैली निकाल रहे युवकों के साथ झगड़े के बाद 26 जनवरी, 2018 को हिंदू और मुस्लिम समुदायों के बीच हिंसा भड़क गई थी। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ़ती आपराधिक घटनाओं के बीच उत्तर प्रदेश एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला राज्य नहीं बन सकता। पिछड़ी जाति के लोगों, दलितों और मुस्लिमों को भाजपा शासन में सबसे अधिक तकलीफ उठानी पड़ती है।

लेकिन अखिलेश यादव के इस बयान पर उत्तर सरकार में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने करारा जबाब दिया है. वैसे करारा जबाब केवल बयानों में ही नहीं चुनाव में भी सपा को मिल रहा है.

गाजीपुर जनपद के करंडा द्वितीय वार्ड नंबर-41 के जिला पंचायत सदस्य उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी शैलेश ने सपा के प्रत्याशी अरुण कुमार को 4138 मतों से पराजित किया। जिला पंचायत सदस्य की मतगणना सुबह आठ बजे राममूरत महिला महाविद्यालय बड़सरा व देवकली विकास खंड पर शुरू हुई। कुल पड़े 13273 मतों में 274 मत अवैध रहे। भापजा उम्मीदवार शैलेश को कुल मत 7250, सपा के अरुण को 4652 मत, रवि 1262 व संतोष को 109 मत मिले। यह सीट अंकित भारती के सैदपुर से सपा के विधायक बनने के बाद रिक्त हुई थी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!