Special Report || बुधवार को उत्तर प्रदेश बीजेपी से एक बड़ी खबर सामने आई. बताया गया कि स्वतंत्र देव सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया है. सूत्रों की मानें तो उन्होंने अपना इस्तीफा बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को सौंप दिया है. चूंकि स्वतंत्र देव सिंह का कार्यकाल 16 जुलाई को खत्म हो गया था. ऐसे में प्रदेश में नए अध्यक्ष को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं.

सूत्रों का दावा है कि मौजूदा समीकरणों को देखते हुए प्रदेश अध्यक्ष ओबीसी, ब्राह्मण या पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हो सकते है. यूपी में 2014, 2017, 2019 और 2022 के चुनावों में बीजेपी का प्रदर्शन शानदार रहा है. ऐसे में बीजेपी एक बार फिर 2024 के लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन की योजना पर काम कर रही है.

यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि इस दौरान बीजेपी आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव भी करेगी. क्योंकि अब लोकसभा चुनाव में ज्यादा समय नहीं बचा है, पार्टी जाति और सामाजिक समीकरण को ध्यान में रखते हुए प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव करेगी.

वैसे तो वेदों में वर्णों का जिक्र है, लेकिन ना जाने कब वर्ण जातियों में बदल गया और जाति राजनीति का मुख्य अंग बन गई. चुनाव चाहे छोटा हो या बड़ा जाति की खूब अहमियत है. जनपद गाजीपुर के करण्डा द्वितीय सीट पर जिला पंचायत उपचुनाव होना है. नामांकन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है अब मतदान 04 अगस्त को प्रातः 07.00 बजे से अपरान्ह 05.00 बजे तक होगा और मतगणना 05 अगस्त को प्रातः 08.00 बजे से कार्य की समाप्ति तक की जाएगी।

गाजीपुर में अंकित भारती के सपा विधायक चुने जाने के बाद रिक्त हुई जिले की करंडा द्वितीय जिला पंचायत सदस्य सीट पर उपचुनाव चल रहा है। आगामी 4 अगस्त को इस चुनाव का मतदान होना है। नामांकन के बाद समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार आमने सामने की लड़ाई में देखने को मिल रहे हैं। वहीं दोनों ही दलों के दिग्गज नेता भी चुनाव में अपने प्रत्याशी की जीत को लेकर पूरा जोर लगा चुके हैं।

राजनीतिक दिग्गजों द्वारा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में जनसंपर्क और छोटी सभाओं का आयोजन किया जा रहा है, जिससे सियासी सरगर्मी बढ़ी हुई दिख रही है। मालूम हो कि इस उपचुनाव में जहां समाजवादी पार्टी ने अरुण कुमार को अपना प्रत्याशी बनाया है। वहीं, भारतीय जनता पार्टी ने शैलेश राम पर दाव लगाया है।

इस उप चुनाव में सपा प्रत्‍याशी अरुण कुमार के पक्ष में सैदपुर विधायक अंकित भारती और सदर विधायक जैकिशन साहू ने क्षेत्र में युद्ध स्‍तर पर जनसंपर्क किया। विधायक अंकित भारती ने क्षेत्र के चाड़ीपुर, सुआपुर मार्ग पर चुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया। समाजवादी पार्टी जातीय समीकरण के आधार पर इस सीट को किसी भी हाल अपने हाथ नजाने देना नहीं चाहती लेकिन वहीँ दूसरी तरफ भाजपा की तरफ से चुनाव प्रचार में एक ऐसा चेहरा मैदान में उतरा है जिसने 2022 के विधानसभा चुनाव में सपा के पसीने छुड़ा दिए थे, भले ही सपा ने गाजीपुर सदर सीट जीत ली हो लेकिन जीत का अंतर इतना कम था की अंत समय तक तय जद्दोजहद चलती रही.

जी हाँ बात हो रही पूर्व मंत्री विजय मिश्र की. जिला पंचायत उपचुनाव करण्डा द्वितीय भाजपा प्रत्याशी शैलेष राम के समर्थन में चुनाव में ग्राम सभा मैनपुर, ब्राह्मणपूरा, सोंहरिया, तिवारीपुर, अलीपुर वनगावा आदि गांवों में जनसपंर्क एवं चुनावी बैठक कर पूर्व मंत्री अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत/धर्मार्थ कार्य मंत्री विजय मिश्र ने कहा कि भाजपा सरकार बिना भेदभाव के जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता तक उनके घर-घर तक पहुंचा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जोड़ी ने विकास को प्राथमिकता दी है। पूरे प्रदेश में सड़कों का जाल बिछा दिया है। 2022 के विधानसभा चुनावों में जीत का बड़ा संदेश दिया था। अब जनता जाति, धर्म से ऊपर उठकर मतदान करके भाजपा प्रत्याशी शैलेष राम को अधिक से अधिक मतों से जीताने का काम करेगी ।

विजय मिश्र के चुनाव प्रचार में आने की वजह सपा की मुश्किलें बढती नज़र आ रही हैं. सपा नेताओं ने सुभाष इंटर कालेज नारी पचदेवरा में अरुण कुमार के समर्थन में एक बैठक की। कहा कि अरुण कुमार ईमानदारी और मेहनती सपा के कार्यकर्ता हैं। क्षेत्र के विकास के लिए हर संभव कार्य करेंगे। उन्‍होने कहा कि सपा और दलित मतदाता एकजुट होकर अरुण कुमार को विजयी बनायेंगे।

एक तरफ जहाँ विजय मिश्र भाजपा के विकास कार्यों की बात कर रहे हैं तो वहीँ सपा जातीय समीकरण को आधार बना रही है. देखने वाली बात ये होगी जिला पंचायत की ये सीट किसके खाते में जाती है.

Leave a Reply

error: Content is protected !!