गाजीपुर : वाराणसी एसटीएफ ने सोमवार को गुजरात के उमरगांव के गांधीवड़ी से 50 हजार के इनामी व गाजीपुर के खानपुर के गौरहट निवासी बनारसी यादव को धर दबोचा। बनारसी यादव 2015 में नंदगंज में दिनदहाड़े सनसनीखेज हत्या की घटना को अंजाम देकर फरार हो गया था। तभी से एसटीएफ व जनपद की पुलिस को इसकी तलाश थी। गुजरात के वलसाड जनपद के न्यायालय में ट्रांजिट रिमांड प्राप्त कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है। इसके पास से एक आधार व श्रम कार्ड बरामद किया गया है।

एसटीएफ फील्ड इकाई वाराणसी के टीम निरीक्षक राघवेंद्र मिश्र को सूचना मिली थी कि 50 हजार रुपये का पुरस्कार घोषित अपराधी बनारसी यादव गुजरात के वलसाड जनपद के गांधीवडी में मौजूद है। टीम ने बनारसी यादव को गिरफ्तार कर लिया। इसके खिलाफ कुल 17 गंभीर मुकदमे दर्ज हैं। खानपुर थाने में सात, नंदगंज में दो, वाराणसी के चोलापुर थाने में छह और सोनभद्र के घोरावल में दो मुकदमे दर्ज है। वाराणसी में मैनेजर सहित कई की कर चुका है हत्या

बनारसी यादव ने पूछताछ में बताया कि उसका पट्टीदार संतोष यादव से पुरानी आपसी रंजिश चली आ रही थी। इस कारण 2002 में उसने भाई के साथ मिलकर संतोष यादव को लगभग 15 गोली मारकर हत्या की थी। इस मुकदमे में जेल चला गया था। जमानत पर छूटकर आने के बाद 2005 में सुनील यादव के साथ मिलकर वाराणसी के चोलापुर थाना के तेवर गांव के रहने वाले टायर एजेंसी के मैनेजर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। 2006 में सैदपुर में अपने साथी अंगद यादव के कहने पर एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

2015 में नंदगंज में अपने साथियों के साथ मिलकर कारबाईन से अंधाधुंध फायरिग कर दो लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। इसमें एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल भी हुआ था। इसी दौरान इसके ऊपर 50 हजार रुपये का पुरस्कार घोषित किया गया था। तभी से छिपकर वलसाड (गुजरात) में चाय फैक्ट्री में प्राइवेट नौकरी कर रहा था।

इसकी खबर जब गौरहट में बनारसी के स्वजन को लगी तो वह सदमें चले गए। बनारसी की भाभी सुमन यादव डीजीपी को पत्र लिखकर गुहार लगाई है। पत्र में उसने लिखा है कि गुजरात से उसके देवर को एसटीएफ ने उठा लिया है। उसको डर सता रहा है कि उसके देवर का कहीं एनकाउंटर ना हो जाए। उसने यह पत्र वाराणसी के पुलिस कमिश्नरेट को भी लिखा है।

……………………………..

(दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर पर आधारित)

ghazipur-50000-reward-historysheeter-arrested-in-stf-gujarat

Leave a Reply

error: Content is protected !!