प्यार और धोखा की इस अजीब मर्डर मिस्ट्री. 13 मार्च को शादी. 1 मई को लापता हुआ युवक. 2 मई को सिर कटी लाश मिली. 23 मई 2022 को पुलिस ने सुलझाई मर्डर मिस्ट्री.

Crime Murder Mystery Story : शादी के एक महीने में ही दुल्हन के सामने ऐसे हालात हुए वो खुद ही अपनी सिंदुर उजाड़ने पर आ गई. हाथों की मेहंदी अभी धुंधली भी नहीं हुई थी कि वो अपने हाथों से जिंदगी को बेरंग करने को तैयार हो गई. वो खुद बेहद खूबसूरत थी. लेकिन हालात कुछ ऐसे हुए कि वो पति को अपनी आंखों के सामने बेरहमी से क़त्ल करने के लिए तैयार हो गई.

मर्डर भी ऐसा जिसे देखकर उसके पति को कोई पहचान ही नहीं सके. सुराग के नाम पर कुछ नहीं. पर आखिरकार हाथ पर बने एक टैटू से पुलिस ने इस मर्डर मिस्ट्री का राज खोल दिया. आज क्राइम रिपोर्ट (Crime Story in Hindi) में एक ऐसी अजीब मर्डर मिस्ट्री. जिसमें एकतरफा और अचानक हुए प्यार ने एक युवक की जान ले ली.

पश्चिम बंगाल का हुगली शहर. इस हुगली जिले के श्रीरामपुर थाना एरिया के दिल्ली रोड पर एक सुनसान इलाके के नाले में 2 मई 2022 को सिरकटी लाश मिली थी. ये लाश पुरानी दिल्ली रोड के पास मिली थी. सिर नहीं होने से युवक की पहचान नहीं हो पाई. काफी खोजबीन की गई. लेकिन कोई सुराग नहीं मिला.

पुलिस को सुराग के नाम पर मरने वाले के हाथ पर एक छोटा सा टैटू दिखा. इसलिए पुलिस ने उस टैटू की फोटो खींचकर आसपास के थानों की पुलिस को सूचना दी. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी अपलोड कर पहचान कराने की मांग की. दो दिनों बाद ही आखिरकार एक परिवार सामने आया.

उस परिवार के लोगों ने बताया कि 25 साल का हमारा बेटा लापता है. 1 मई 2022 को ही वो घर से निकला था. लेकिन घर नहीं लौटा. उसके साथ नई नवेली दुल्हन भी गई थी. वो घर लौट आई. लेकिन बेटा घर नहीं पहुंचा. बहू ने बताया कि पति किसी दोस्त के घर जाने की बात कहकर चले गए थे. लेकिन फिर भी नहीं लौटा. थाने में इसकी गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी.

पुलिस ने कुछ कपड़े दिखाए और टैटू की फोटो दिखाई तो परिवार ने उसकी पहचान शुभ्रज्योति बसु के रूप में की. परिवार उत्तर 24 परगना जिले के खड़दह मं रहता है. इस शुभ्रज्योति की 13 मार्च 2022 को शादी हुई थी. परिवार में सबलोग खुश थे. लेकिन ये खुशियां ज्यादा दिनों तक नहीं टिक पाई.

आखिरकार शादी के 48 दिन बाद नई नवेली दुल्हन विधवा हो गई. परिवार से बेटे का साया छिन गया. इसका पता चलने पर शुभ्रज्योति की पत्नी चंदना चटर्जी उर्फ पूजा खूब रोई. इसे देखकर हर कोई यही कह रहा था. इस बेचारी से ज्यादा बदकिस्मती कौन होगा. जिसकी शादी के बाद अभी हाथों से मेहंदी भी पूरी नहीं उतरी थी कि सुहाग ही उजड़ गया. घर में मातम का माहौल था. पर सवाल था कि आखिर 25 साल के इस युवक की हत्या क्यों की गई.

Crime Ki kahani : पुलिस को ये जरूर लगा कि कहीं कोई दुश्मनी तो नहीं थी. फिर परिवार से लेकर रिश्तेदारों और पड़ोसियों से पूछताछ की गई. लेकिन ऐसा कुछ भी सामने नहीं आया. अगर कोई दुश्मनी नहीं तो आखिर और कौन सी ऐसी वजह थी जिसके चलते मर्डर किया गया. फिर हत्या हुई तो उसका सिर कहां है. उसकी इतनी बेरहमी से हत्या करने की वजह क्या थी. ऐसे तमाम सवाल थे जिनके जवाब पुलिस के पास नहीं थे.

इसके बाद परिवार के लोगों ने 1 मई को लापता होने वाले दिन के बारे में पूरी जानकारी दी. इसके बाद पुलिस को बीवी पर शक गहराया. घटना की जानकारी वाले दिन तो वो होश में नहीं थी. लेकिन फिर पुलिस ने उससे पूछताछ शुरू की.

उसने बताया कि उस दिन वो एक दोस्त के घर मिलने जाने वाले थे. लेकिन उसके पति कहीं और जाने की बात कहकर निकल गए. इसके बाद नहीं लौटे. इस जानकारी पर पुलिस ने पड़ताल की तो पत्नी की बातें पूरी सच नहीं निकली.

पुलिस ने साथ में ले जाकर पूरी घटना का डेमो कराया तो पत्नी घबराने लगी. झूठ बोलने लगी. ये देखकर पुलिस का शक उसी पर बढ़ गया. इसके बाद जब पुलिस ने अपने तरीके से पूछताछ की तब उसने पूरा सच बताया. जिसे जानकर पुलिस भी दंग रह गई.

जिस सहेली से मिलवाया, पति का दिल उसी पर आया

पूजा ने पुलिस को बताया कि शादी के बाद हम दोनों बेहद खुश थे. सबकुछ ठीक चल रहा था. इसी बीच उसकी एक दोस्त ने अपने घर पर हमदोनों को मिलने के लिए बुलाया. पूजा की सहेली का नाम शर्मिष्ठा भास्कर है. उसके पति को काफी समय पहले एक क्राइम केस में जेल हो गई थी. इसलिए वो अकेली रह रही थी.

शुभ्रज्योति और पूजा दोनों शर्मिष्ठा से मिलने उसके घर पहुंचे. ये बात शादी के एक हफ्ते बाद की ही है. पूजा ने पुलिस को बताया कि शुभ्रज्योति को पहली नजर में उसकी सहेली शर्मिष्ठा से प्यार हो गया. वो उसे बेहद पसंद करने लगा. और मोबाइल नंबर लेकर फोन करना शुरू कर दिया. शुभ्रज्योति ने शर्मिष्ठा से यहां तक कह दिया कि वो उसके लिए अपनी पत्नी को छोड़ देगा.

बस तुम रहने के लिए साथ में तैयार हो जाओ. इस तरह पूजा के पति ने शर्मिष्ठा को अपने प्यार का प्रस्ताव भी दे दिया. ये सुनते ही शर्मिष्ठा के होश उड़ गए. वो बेहद ही नाराज हुई. इस बारे में उसने तुरंत पूजा को बताया. ये भी बताया कि वो उसे समझाए. इस बारे में पूजा ने जब अपने पति को समझाया तो वो उसी पर भड़क उठा. बोला कि अब चाहे जो हो जाए उसे शर्मिष्ठा से प्यार हो गया है.

इसी बीच, शर्मिष्ठा का पति सुबीर जेल से जमानत पर बाहर आ गया. जब वो घर आया तो उसकी पत्नी ने पूरी जानकारी दे दी. ये सुनकर जेल गया पति गुस्से में आ गया. इसके बाद उसने पत्नी की दोस्त यानी पूजा से बात की. फिर पूजा, शर्मिष्ठा और इसका पति सुबीर तीनों ने मिलकर शुभ्रज्योति को ही रास्ते से हटाने की साजिश रचने लगे.

चूंकि जेल में रहकर सुबीर आया था. इसलिए उसे ये दांवपेच पता था कि कैसे किसी की हत्या कर लाश को ठिकाने लगाया जाए कि कातिल का सुराग नहीं मिले. फिर क्या था. उसने पूरी साजिश रच डाली. और फिर तय हुआ कि अभी शुभ्रज्योति एकतरफा प्यार में अंधा है ही. उसे पार्टी दिलाने के बहाने एक बार फिर से बिना किसी को बताए शर्मिष्ठा के घर बुलाया जाए.

Crime Ki Kahani : अब शुभ्रज्योति ने इस बारे में अपने घरवालों को कोई जानकारी नहीं दी. और पत्नी को घुमाने के बहाने उसे साथ लेकर शर्मिष्ठा और उसके पति के पास ले आए. घर से सुबीर बात करते हुए शुभ्रज्योति बसु को अपने साथ घर से थोड़ी दूरी पर ईंट भट्ठी के पास ले गया. वहां पर उसे शराब पिलाई. इसके बाद शुभ्रज्योति जब नशे में आ गया तब सुबीर ने धारदार हथियार से मारकर उसकी हत्या कर दी. इसके बाद उसकी लाश के दो टुकड़े कर दिए. सिर को काटकर अलग कर दिया.

कटे हुए सिर को प्लास्टिक बैग में बंदकर नदी में फेंक दिया. जबकि धड़ वाले हिस्से को घर से काफी दूर दिल्ली रोड की तरफ ले आया और वहां के एक नाले में फेंक दिया. 1 मई को हुई हत्या के बाद 2 मई की दोपहर में पुलिस को नाले से सिर्फ धड़ मिला था लेकिन सिर गायब था. इस घटना का खुलासा होने के बाद पुलिस ने मरने वाले शुभ्रज्योति की पत्नी पूजा, उसकी सहेली शर्मिष्ठा और जेल से आए इसके पति सुबीर तीनों को गिरफ्तार कर लिया.

……………………………………………..

Source: CrimeTak, दैनिक जागरण (25.05.2022)

Leave a Reply

error: Content is protected !!