Ghazipur । शनिवार का दिन गाजीपुर में काफी एक्शन (Anti Mafia) से भरा रहा। नकल माफिया महेंद्र कुशवाहा के एक बिल्डिंग को जिला प्रशासन ने मुनादी के साथ जब्त कर लिया। महेंद्र कुशवाहा पर टीईटी की परीक्षाओं के साथ ही अन्य परीक्षाओं में नकल कराने का आरोप है।महेंद्र कुशवाहा के ऊपर, जिलाधिकारी के आदेश के बाद गैंगस्टर एक्ट(Gangster Act) के तहत कार्यवाही की गई है।


शनिवार को सीओ सिटी और एसडीएम सदर की मौजूदगी में महेंद्र कुशवाहा के आईटीआई(ITI) बिल्डिंग के परिसर में पहले मुनादी की गई। फिर उसके ऊपर लगे आरोपों का एक फ्लेक्स मुख्य द्वार पर जिला प्रशासन ने टांग दिया। इस एक्शन को लेकर क्षेत्राधिकारी सदर ओजस्वी चावला ने बताया कि पुलिस ने महेंद्र कुशवाहा का डोजियर तैयार किया था। उसी डोजियर के आधार पर डीएम ने महेंद्र के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत एक्शन लेने का आदेश पारित किया है। जिलाधिकारी के आदेश के अनुपालन के क्रम में शनिवार को उसके बिल्डिंग को सिर्फ कर लिया गया है जिसकी अनुमानित कीमत 2.61करोड़ है।

महेंद्र कुशवाहा पारस कुशवाहा नकल गैंग का सक्रिय सदस्य बताया गया है। अब तक किस बैंक की 27 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति चीज की गई है। ओजस्वी चावला के अनुसार सीज की गयी प्रॉपर्टी के विवरण कुछ इस है।पारस कुशवाहा (गैंग लीडर)- 12 करोड़ 31 लाख की संपत्ति कुर्क, राजेंद्र कुशवाहा- 9 करोड़ 57 लाख की संपत्ति कुर्क, महेंद्र कुशवाहा- 5 करोड़ 94 लाख की संपत्ति कुर्क की गई।

Leave a Reply

error: Content is protected !!