गाजीपुर (सादात)। सादात थाना के वार्ड संख्या दो सोनकर बस्ती निवासी एक युवक ने पारिवारिक कलह के चलते आत्मघाती कदम उठा लिया। युवक ने पहले तो पत्नी और छह साल के बेटे व चार वर्ष की बेटी की हत्या कर दी और इसके बाद खुद भी कमरे के अंदर फांसी के फंदे पर लटक अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। सुबह दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया फिर दरवाजा तोड़कर देखा तो अंदर शव पड़े थे यह मंजर देखकर लोग दंग रह गए।
सादात कस्बा के वार्ड दो निवासी शिवदास उर्फ डब्लू सोनकर (36) पुत्र मोहन सोनकर रेलवे स्टेशन पर ठेला लगाता था। उसकी शादी करीब आठ साल पहले रीना सोनकर से हुई थी। उसे एक बेटा राहुल (6) और बेटी तेजल (4) थी। बताते हैं कि प्रायः पत्नी से उसका विवाद हुआ करता था। करीब साल भर से उसकी पत्नी मायके में ही थी। इधर दस दिन से मायके वालों के समझाने बुझाने के बाद वह यहां आयी थी। पड़ोसियों की माने तो शनिवार को फिर से दोनों में झगड़ा हुआ, जिसके बाद सुबह साढ़े सात बजे तक दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों ने दरवाजा खटखटाया लेकिन किसी ने नहीं खोला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी और दरवाजा तोड़कर देखने पर शिवदास कमरे में फांसी पर लटका मिला। उसके पास ही पत्नी और दोनों बच्चों का शव मिला। घटना के बाद सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गयी।स्थानीय थाने की पुलिस के साथ ही सैदपुर सीओ मौके पर पहुंच गए। घटना की जानकारी के बाद खुद एसपी रामबदन सिंह, एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस चारों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेजने के साथ ही आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!