अमेठी. देशभर के साथ यूपी में होली का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है, लेकिन अमेठी (Amethi Crime News) से बुरी खबर सामने आ रही है. दरअसल जिले के जामो थाना क्षेत्र अंतर्गत रेवड़ापुर गांव में शुक्रवार को होली खेलने को लेकर हुए मामूली विवाद में दो गुटों में खूनी संघर्ष हो गया. इसमें विवाद में दो लोगों की मौत हो गई, तो छह अन्य घायल हो गए. इसमें से तीन लोगों की नाजुक हालत देखते हुए उन्‍हें लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है. यह जानकारी पुलिस ने दी है.

जामो थाना प्रभारी धीरेंद्र कुमार यादव के मुताबिक, रेवड़ापुर गांव में होली खेलने को लेकर दो पक्षों में हुए संघर्ष में गांव बाबूपुर निवासी अखंड प्रताप सिंह (32) और रेवड़ापुर निवासी शिवराम ऊर्फ क्लडडू पासी (55) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. उन्होंने बताया कि वहीं इस घटना में छह के करीब व्यक्ति जख्मी हो गए हैं.जामो थाना प्रभारी ने बताया कि अखंड प्रताप सिंह का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है. दोनों मृतकों के शवों को भारी सुरक्षा के साथ पोस्टमार्टम के लिए गौरीगंज भिजवाया गया है.

छावनी में तब्‍दील हुआ पूरा गांव
वहीं, इस मामले की सूचना पर जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गये हैं. यही नहीं, पूरे गांव में भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है. वहीं, इस हत्‍याकांड की वजह से इलाके में दहशत का माहौल है.

रंग लगाने को लेकर हुआ खूनी संघर्ष
जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने बताया कि बाबूपुर के लोग अपने गांव में सड़क किनारे होली खेल रहे थे. इस बीच वहां से गुजर रहे रेवड़ापुर गांव के लोगों को रंग लगा दिया. इसके बाद दोनों पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया. इसमें अब तक दो लोगों की मौत हुई है. जबकि छह लोग घायल हैं. जानकारी के मुताबिक, सभी घायलों को अस्‍पताल में इलाज चल रहा है. वहीं, दो लोगों की मौत से गांव में मातम पसर गया है. वहीं, इस विवाद के पीछे राशन बांटने की वजह सामने आयी है. दरअसल कोटेदार ने दूसरे गांव के लड़के को देख लेने की धमकी दी थी और आज यह विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया.

अमेठी से विरेन्द्र सिंह की रिपोर्ट ……..

Leave a Reply

error: Content is protected !!