दिलदारनगर/ग़ाज़ीपुर एक ओर जहां देश में ओमीक्रांन का खतरा फिर से बढ़ने लगा है वही स्वास्थ्य विभाग भी उसको गंभीरता से लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दिया है स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के बावजूद भी लोग ऐहतियात नहीं बरत रहे हैं इसका ताजा उदाहरण दिलदारनगर क्षेत्र के सरैला रोड पर सिटी कार्ट शापिंग माॅल में देखने को मिला। ग्राहक भले ही मास्क लगाकर शापिंग कर रहे हैं लेकिन उसमें मौजूद एक कर्माचारी बिना मास्क के नजर आये।

सिटी कार्ट के मैनेजर से जब पत्रकारों ने पूछा तो बहुत ही घमंड से मैनेजर ने कहा मेरा सिटी कार्ट माॅल का कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। वहीं उत्तर प्रदेश में लागातार ओमिक्रोन का बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लोग फिर मास्क लगाना शुरू कर दिये है लेकिन माॅल में मौजूद कर्मचारी बिना मास्क के नजर आये।

ऐसे में सवाल उठता है कि स्वास्थ्य विभाग और उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा कोरोना गाइडलाइन पालन करने के लिए लगातार नसीहत दी जाती है लेकिन ऐसे धन पशुओं पर सरकार के गाइडलाइन का कोई असर नहीं पड़ता है बताते चलें कि कोविड-19 के सेकंड फेस के दौरान दिलदार नगर बाजार में ही वीकेंड लॉक डाउन के दौरान भी एक माल में खुलेआम सरकारी नियमों को धता देकर बिक्री की जा रही थी जिस पर एसडीएम सेवराई के द्वारा महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई भी की गई थी ऐसे में इस माल के मैनेजर व अन्य कर्मचारियों के विरुद्ध प्रशासन के द्वारा क्या कार्रवाई की जाएगी यह तो आने वाला समय ही बता पाएगा।

Leave a Reply

error: Content is protected !!