गाज़ीपुर। शहर के समीप स्थित वीर अब्दुल हमीद सेतु से सोमवार को दिन में एक व्यक्ति ने गंगा छलांग लगा दी। काफी प्रयास के बाद उस व्यक्ति का शव बरामद हुआ। पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए दुर्घटना की जानकारी परिजनों को दी।

हम इस हेतु पर मौजूद लोगों का कहना है कि एक व्यक्ति सेतु पर आया और अचानक से गंगा में छलांग लगा दी जैसे ही उस पर नजर पड़ी लोग शोर मचाने लगे। शोर सुनकर गंगा में नाव पर मौजूद मछुआएं उसे बचाने के प्रयास में जुट गए, लेकिन वह डूब गया।

इस घटना की सूचना जैसे ही रजागंज पुलिस चौकी को मिली चौकी की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। काफी मशक्कत के बाद व्यक्ति का शव बरामद हुआ। मृतक की जेब से मिले मोबाइल से उसकी पहचान छपरा थाना बिहार निवासी गुरूनारायण के पुत्र निर्मल अग्रहरि लगभग (55) के रूप में हुई।

बताया जा रहा है कि मृतक का ससुराल हमीद सेतु के समीप ही स्थित सदर कोतवाली क्षेत्र के नवाबगंज में है। वह ससुराल आया था। सुचना पर ससुराल के लोग भी मौके पर पहुंच गए। ससुराल के लोगों ने बताया कि निर्मल की तबियत खराब चल रही थी। दिल्ली से हाल में उपचार कराकर आया था। मृतक लोहे का कारोबार करता था। पत्नी और बच्चे छपरा गांव पर है। उन्हें घटना की सूचना दे दी गई है। शव को कब्जे में लेकर पुलिस आगे की कार्यवाही में जुट गई।

Leave a Reply

error: Content is protected !!