संवाददाता वीरेन्द्र सिंह

अमेठी। पुलिस के हीला हवालीसे सुरछित नही बहिन बेटिया आये दिन बेखौफ दबंग घटना को दे रहे अन्जाम कब तक दंबगो के इशारे पर काम करते रहेगी ये खाकी,

मोहनगज,भाई बहिन के घरेलू कहा सुनी मे उपरोक्त ग्राम निवासी दबंगो ने पति सहित महिला को जमकर पीटा शिकायत करने पर जबरन महिला के साथ की छेड़छाड़। पुलिस बनी मौन ।बताते चले की एक सप्ताह पूर्व सीता पत्नी हेमन्त ने अपने सगे भाई को उपरोक्त ग्राम निवासी दबंगो के साथ रहने के लिये मना किया था।ये बात दबंगो को राश नही आया। शाम होते ही सीता के पति हेमन्त को दबंगो ने जमकर मारा पीटा जिसकी लिखित शिकायत पति पत्ती ने थाना मोहनगज मे दी है । आये दिन सुर्खियो मे रहने वाली ये खाकी ने उल्टा पीडित को ही डाट फटकार कर घर भेज दिया। अब क्या था। दबंग के हौसले और भी बुलन्द सईया हुये कोतवाल तो डर कहे का। यह कहावत सार्थक साबित तब हुआ जाब पीडित महिला थाने से घर लौटी,रास्ते मे पहले से बैठे दबंग ने गाली गलौज करते हुए। महिला के साथ अशब्दो से पेश आते हुये उसके कपडे भी फाड दिया। थाने से न्याय की उम्मीद छोड महिला ने पुलिस अधीक्षक अमेठी ख्याति गर्ग की चौखट खटखटाई जहा कार्यवाही करने के लिये आदेश किया पुनः:महिला जनता के कहने वाले भगवान मोहनगज पुलिस के पास दोबारा पहुची। उच्चधिकारियो के आदेश पर मोहनगंज पुलिस ने अपना खेल खेलते हुऐ। दबंग विपछी को छेडछाड की जगह पर मात्र मामूली धाराओ मे कुछ लोगो का चालान करते हुये गैग के मुखिया पर मेहरबान रहे। यही नही पीडित महिला का चलने से लेकर रहना तक दबंगो ने दुष्वार्य करके रख दिया। पीडित महिला न्याय पाने के लिये अपर पुलिस अधीक्षक से वृथा सुनाई। जहां पर एक तरफ सरकार योगी आदित्य नाथ कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए उच्चधिकारियो की बैठक करते रहते है वही जनपद अमेठी के थाना मोहनगज पीडित को न्याय की जगह पर अपने ही अधिकारियों को गुमराह करके के छेडछाड की घटना को आपसी विवाद बताकर दबंगो रसूकदारो के हौसले बुलन्द करने मे कोई कोर कसर नही छोड़ रही है। क्या ऐसी दशा मे बहिन बेटियों को न्याय मिल पायेगा। एन्टी रोमियो पर शिकजा कसने मे आखिर ये पुलिस परहेज क्यो कर रही है। पीडित महिला मुख्य मंती जनता दरबार मे मिलकर इन दरिन्दो के खिलाफ आवाज उठायेगी।

Leave a Reply