ब्यूरो डेस्क। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर एक तरफ जहां देश में लॉक डाउन की अवधि बढ़ा दी गई है तो वहीं दूसरी तरफ जनपद स्तर पर नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। आमतौर पर मुख्य विकास अधिकारी को ही नोडल अधिकारी बनाया गया है। हमने पिछले कई दिनों में देखा है की जब नोडल अधिकारी को फोन किया जा रहा है तो उनका फोन नहीं लगता है, ऐसे में जरूरतमंद लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

शुक्रवार को प्रेस वार्ता के दौरान मुख्य सचिव, गृह व सूचना अवनीश अवस्थी ने कहा कि “

मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया है कि नोडल अधिकारी फोन पर उपलब्ध रहें, लोगों की दिक्कतें सुनें और समाधान करें। मंडियों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो।

Leave a Reply