ब्यूरो डेस्क/पंजाब | कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पुरे भारत में 3 मई तक लॉक डाउन है. 25 मार्च से हुए लॉक डाउन को अब एक महीने से ज्यादा हो गया है. ऐसे में पिछले एक महीने से सड़कों वहान ना के बराबर चल रहे हैं. लोग घरों में हैं, ज्यादातर फैक्ट्री बंद है. जिसके चलते प्रदुषण का स्तर गिरना स्वाभाविक है. अब इसका असर दिखना शुरू भी हो गया है.

ताजा जानकारी पंजाब से है, पंजाब के अमृतसर,शिवपुरी शमशान घाट में होने वाले दाह संस्कार में कमी आई है। शमशान घाट अधिकारी धर्मेंद्र का कहना है कि “लॉकडाउन से पहले 25-30 शव आया करते थे। अब ये 12-15रह गए हैं। आजकल एक्सीडेंट, हार्ट अटैक और लड़ाई-झगड़े के केस कम हो गए हैं। वातावरण साफ होने के कारण भी मृत्यु दर में कमी आई है।.”

वहीँ कमिश्नर नगर निगम अमृतसर कोमल मित्तल ने कहा कि “लॉकडाउन होने की वजह से लोगों का मिलना-जुलना कम हो गया है जिसकी वजह से एक्सीडेंट और क्राइम रेट कम हुआ है। प्रदूषण स्तर में भी गिरावट आई है इसलिए लोगों का मृत्यु दर कम हुआ है.”

Leave a Reply