संवादाता : सऊद अंसारी

गाजीपुर | जनपद ने देश को बड़े बड़े व्यक्तिव दिए हैं. गाजीपुर के लोगों ने शिक्षा के स्तर में अपार सफलताएं हासिल की हैं, ऐसे में गाजीपुर के एक और लाल हैं जो पहले आईजी ऑफिस, रांची, झारखण्ड में जुलाई 2016 से Dy. SP के पद पर तैनात थे और वो सफलता हासिल करते हुए अस्सिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ टैक्स बन गये हैं.

गाजीपुर शहर के सुजावलपुर चौक, रजदेपुर निवासी स्वर्गीय रफीक अहमद अंसारी के पुत्र जिआउल हक़ का 6th JPSC 2016 में चयन हुआ और वो अस्सिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ टैक्स बन गये.

जिआउल हक़ ने बताया कि उन्होंने प्रारम्भिक शिक्षा शहर के राजकीय सिटी इण्टर कॉलेज से लिया, उसके बाद उन्होंने स्नातक की पढाई जनपद के जैतपुर स्थित लुटावन महाविद्यालय से किया, फिर स्वामी विवेकानंद यूनिवर्सिटी सागर से उन्होंने स्नाकोत्तर किया.

उन्होंने बताया कि उनका चयन 5th JPSC 2013 में हुआ था और उनकी पोस्टिंग जुलाई 2016 से आईजी ऑफिस, रांची, झारखण्ड में थी. अब उनका 6th JPSC 2016 में चयन हुआ और वो अस्सिस्टेंट कमिश्नर ऑफ़ टैक्स बन गये हैं.

उनके बड़े भाई डॉ मोजिबुर्र्रह्मन अंसारी और छोटे भाई हाफिज डॉ सद्दाम हुसैन, जनपद के सुजावलपुर चौक स्थित इस्लामिया क्लिनिक एवं आर्युवेदिक रिसर्च सेण्टर में कार्यरत हैं.

जिआउल हक़ ने एक बार फिर गाजीपुर का नाम रोशन किया है.

Leave a Reply