ब्यूरो डेस्क | कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु हुए लाकडाउन में प्रसाशन ने कई नियम बनाये हैं. उस नियम के दायरे में ही आम जनमानस, किसान और व्यापारियों को काम करना है. लेकिन यदि जरा सोचिये यदि अचानक कोई नियम बनाया जाये और उसकी जानकारी आपको न हो और प्रसाशन द्वारा एक्शन ले लिया जाये. तो फिर गलती किसकी – अचानक नियम बनाकर न बताने वाले कि या आपकी.

ताजा खबर बिहार से है. जानकारी के अनुसार बिहार के नालंदा में पुलिस वालों के गाड़ियां रोक-रोक कर पैसे मांगने और चालान काटने से परेशान किसानों ने पुलिस प्रशासन के विरोध में नारेबाजी कर सड़क जाम किया।

जानकारी के अनुसार अखिलेश नाम के किसान ने बाते कि “D.O., D.S.P., D.M. साहब ने अचानक सब्जी मंडी को दीपनगर स्टेडियम शिफ्ट कर दिया।सुबह माल लेकर गए तो कुछ नहीं किया शाम को जब लौट रहे थे तो सब पर लाठीचार्ज की। दीपनगर थाना वालों ने हेलमेट, जूते और लाइसेंस न होने पर चालान काटा और मारा। साईकिल वालों के साथ भी यही कर रहे थे.”

Leave a Reply