ब्यूरो डेस्क | कोरोना संक्रमण कि रोकथाम के लिए किये लाकडाउन में आम जनमानस कि सुविधाओं को ख्याल में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार कई महत्वपूर्ण कदम उठा रही है.

इसी क्रम में रविवार को किये गये प्रेस वार्ता में ACS, गृह व सूचना, अवनीश के अवस्थी ने कहा कि “मुख्यमंत्री जी ने कहा कि स्थानीय प्रशासन नियमों में सरलीकरण करके किसानों को सहायता उपलब्ध कराए”

“मुख्यमंत्री जी ने आज टीम-11 की बैठक में सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि किसानों को हार्वेस्टिंग व आवागमन में कोई असुविधा न हो, यह सुनिश्चित किया जाए, उन्होंने आज यह भी निर्देश दिया है कि इसके संदर्भ में यदि कृषि और मंडी विभाग के नियमों में कोई परिवर्तन करने हैं तो कर दिए जाएं. न्यूनतम समर्थन मूल्य के माध्यम से यदि वैकल्पिक क्रय यानी खेतों से ही किसान की फसल की खरीद की जाती है तो उसे भी प्रोत्साहित किया जाएगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि फसलों के प्रोक्योरमेंट यानी फसल क्रय में मंडी की व्यवस्था को और बेहतर बनाया जाए। हर हाल में किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य जरूर मिले” 

उन्होंने आगे कहा कि “क्योरमेंट एजेंसीज अगर गांवों में जाकर खरीद कर सकती हैं और ईमानदारी से किसानों के साथ कार्य कर रही हैं तो उन्हें अनुमति दी जाएगी और उनकी मदद भी की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रोक्योरमेंट की पूरी प्रक्रिया में सोशल डिस्टेंसिंग को अनिवार्य रूप से सुनिश्चित किया जाए. इसके साथ ही मंडी में फसल क्रय करने की कार्रवाई भी सुनिश्चित की जा रही है.”

उन्होंने आगे कहा कि “कृषि विभाग के अनुसार लगभग 30% से 40% फसल की कटाई पूरी हो गई है। कृषि विभाग की पूरी तैयारी है। जिलाधिकारियों व अन्य अधिकारियों के माध्यम से किसानों को फसलों की कटाई व उसे मंडी में लाने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

 

 

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!