ब्यूरो डेस्क | कोरोना महामारी की रोकथाम का एक ही इलाज सोशल डिस्टेंस बना के रखना ही है. इसलिए घरों में रहना जरुरी है. इसी के मद्देनज़र मंदिर और मस्जिद में जाने कि मनाही की गई है. इसी को देखते हुए अखिल भारतीय इमाम संगठन के चीफ इमाम उमर अहमद इल्यासी ने कहा कि “मैं अपने मुसलमान भाईयों और इमामों से ये गुज़ारिश करता हूं कि कल से शब-ए-बारात शुरू होने वाला है तो आप सभी लॉकडाउन और धारा 144 का पालन करें और घरों में रह कर इबादत करें.”

Leave a Reply

error: Content is protected !!