जमानियां। एक छोटी सी परी ने अपनी हौसला को बुलंद करते हुए अपनी गुल्लक में रखी जमा पूंजी को इस महामारी से जूझ रहे गरीब असहाय लोगांे के सहायता के लिए दे दिया। नगर स्थित दुरहिया के पास की एक छोटी बच्ची ने अपने छोटी-छोटी बचत को गुल्लक में सुरक्षित रखने वाली नन्ही बच्ची ने लॉकडाउन के दौरान परेशानियों से जूझ रहे जरूरतमंदो को देने का फैसला किया। बताते चलें कि मंगलवार को उपनिरिक्षक मंशाराम गुप्ता अपने हमराही कांस्टेबल गोविंद सिंह, अभिजीत सिंह व विवेक पाण्डेय के साथ कोरोना वायरस की वजह से हुये लॉकडाउन के वजह से क्षेत्र में भ्रमण कर रहे थे। तभी गाड़ी का सायरन सुनकर दुरहिया के पास उस छोटी सी बच्ची ने मुह पर मास्क लगाये घर से बाहर सड़क के किनारे आकर पुलिस की गाड़ी को रुकवाया। अचानक बच्ची के द्वारा आवाज देकर गाड़ी रुकवाने पर आनन फानन में गाड़ी रुकी और कांस्टेबल गाड़ी से उतरकर अभी कुछ पूछने ही वाले थे कि बच्ची ने उपनिरिक्षक मंशा राम गुप्ता को अपने द्वारा बचत कर रखे गुल्लक में रखे पैसों को यह कहकर दिया कि अंकल जी मेरे भी पैसों से कोरोना वायरस की वजह से हो रही लोगों की परेशानियों को दूर करने की लिए बिस्कुट व टोस्ट आदि खरीद कर जरूरत मन्द लोगों में बाट दीजियेगा। इस छोटी सी बच्ची के कारनामे को नगर सहित क्षेत्र के लोग देख कर हैरत अंगेज है। इतनी सी छोटी सी उम्र में बच्ची ने इस पीड़ा से जूझ रहे लोगों को अपनी वर्षो की जमा पूंजी को पुलिस को दान कर दिया। वहीं क्षेत्र में इस बच्ची का कार्य क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!