ब्यूरो डेस्क | कोरोना महामारी से पूरा विश्व ग्रसित है और जानकारी के अनुसार हमारे देश में भी सिवाए सोशल डिस्टेंस के और पुक्ता उपाय नहीं है कोरोना वायरस को हराने के लिए. यदि समय रहते इसकी जानकारी हो जाती है तो डॉक्टर अपना सम्पूर्ण प्रयास करते हैं . ऐसे में कोरोना वायरस की जाँच के लिए लैब की आवयश्कता महत्वपूर्ण है.

उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि हमारे प्रदेश में कोरोना का जब पहला मामला आया था तो यहाँ कोई टेस्टिंग लैब नहीं था.

सीएम योगी ने बताया कि “भारत सरकार के सहयोग से उत्तर प्रदेश में आज 10 टेस्टिंग लैब सफलतापूर्वक कार्य कर रही हैं”

Leave a Reply