ब्यूरो डेस्क। कोरोना महामारी के रोकथाम में डॉक्टर, पुलिस, प्रसाशन और मीडिया अपना अहम् रोल अदा कर रही हैं। ऐसे में इनका मनोबल बढ़ने के लिए प्रधानमंत्री ने 22 मार्च शाम 5 बजे घण्टी, थाली इत्यादि बजाने के लिए कहा था। अब पुरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन है और ऐसे में डॉक्टर, पुलिस, प्रसाशन और मीडिया पूर्ण रूप से डटी हुई तो एक बार फिर प्रधानमंत्री ने आम जनता से निवेदन किया है कि हमें इनका मनोबल बढ़ाना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि प्रत्येक भारतीय 5 अप्रैल को रात 9 बजे अपने घरों की बत्तियां बुझा दें और दिये, मोबाइल टार्च व मोमबत्तियां जलाकर, कोरोना महामारी की लड़ाई में लगे लोगों का मनोबल बढ़ाएं।

शनिवार को भारत सरकार की तरफ से इस बात को फिर से बताय गया कि “प्रधानमंत्री ने केवल घरों की बत्तियां बुझाने का आह्वान किया है, 5 अप्रैल को 9 बजे बत्तियां बुझाए जाने के दौरान ग्रिड की स्थिरता बनाए रखने के लिए पुख्‍ता प्रबंध और प्रोटोकॉल मौजूद हैं, आवश्‍यक सेवाओं के तहत बत्तियां जलती रहेंगी।”

Leave a Reply