ब्यूरो डेस्क। कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए जहां एक तरफ सरकार प्रयत्नशील है तो वही कुछ ऐसे संगठन भी हैं जो घोर लापरवाही बरतते हुए नजर आ रहा है। इसी क्रम में देश की राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन क्षेत्र में 12 तारीख की रात को तबलीगी जमात कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें देश विदेश से बहुत लोग शामिल थे। इसी कार्यक्रम में शामिल 11 लोग, कार्यक्रम में शामिल होने के बाद सुहेलदेव एक्सप्रेस से उत्तर प्रदेश के जनपद गाजीपुर आए।

जनपद में आने के बाद इन्हीं 11 लोगों ने अपनी पहचान छुपाई और वह शहर स्थित महुआबाग एचडीएफसी बैंक के ठीक सामने मस्जिद में छुपे हुए थे। सूचना मिलने पर प्रशासन ने इन्हें अपने कब्जे में लिया तथा मेडिकल जांच के लिए आगे भेज दिया। ताजा सूचना के अनुसार इनमें से एक व्यक्ति COVID 19 पॉजिटिव पाया गया है, इस ख़बर के आते ही शहर का माहौल गर्म हो गया।

पुलिस ने सख्ती बरतते हुए कुल 22 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। सदर कोतवाल धनंजय मिश्र ने बताया कि इन 22 लोगों में 11 वह लोग हैं जो दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित तबलीगी जमात में शामिल हुए थे और 11 अन्य है जिन्होंने गाजीपुर में इन्हें छिपाने और घुमाने फिराने का काम किया था।

पुलिस की इस कार्रवाई की और तरफ तारीफ हो रही है।

Leave a Reply