संवादाता: विश्वजीत कुमार

वाराणसी। कहते हैं कि दुनिया सब बदल सकता है लेकिन मां की ममता कभी नहीं बदल सकती, लेकिन इस कहावत को भी आज हैवानों ने बदल दिया। वाराणसी में एक मां ने अपने प्रेम प्रसंग और जमीन के लालच में प्रेमी संग मिलकर अपने ही पुत्र की हत्या कर दिया।

आपको बता दें कि इसी महीने के 19 तारीख को अमर थाने में एक अज्ञात लड़के का शव मिला था, जिसकी जांच पुलिस कर रही थी कि शुक्रवार को पुलिस को सूचना मिली कि जो अज्ञात मृतक लड़के का शव मिला था, उससे सम्बन्धित संदिग्ध एक व्यक्ति व एक औरत मण्डुवाडीह हनुमान मंदिर के सामने साइकिल से है जो कहीं जाने के फिराक में है यदि जल्दी किया जाय तो पकड़े जा सकते है। इस सूचना पर थाना भेलूपुर के उ0नि0 अजय प्रताप यादव, उ0नि0 वेद प्रकाश यादव, उ0नि0 अजय मिश्रा, उ0नि0 धनन्जय यादव, कां0 दिलशाद खां द्वारा मण्डुवाडीह स्टेशन पंहुचकर एटीएम के पास खड़े दोनो क्रमशः विकास मोदनवाल उर्फ रसद पुत्र बालमुकुन्द मोदनवाल व मृतक की माँ शान्ति देवी पत्नी स्व0 भरत बिन्द को पुलिस बल व महिला पुलिस की मदद से घेरघार कर 10-15 कदम जाते जाते पकड़ लिया गया ।
पूछ-ताछ में विकास मोदनवाल ने बताया कि “साहब हत्या करने के बाद हम लोग बहुत डरे हुए है, रोहनिया अमरा अखऱी में जिस लड़के का शव मिला था, वह लड़का शान्ति देवी का है जिसका नाम गौरव बिन्द है जिसको जान से मारने के बाद मै और शांति ने इस हत्या को छिपाने हेतु लड़के गौरव बिन्द के गुम होने के सम्बन्ध थाना भेलूपुर में मुकदमा पंजीकृत कराया था । मृतक गौरव को उसकी माता शान्ति देवी द्वारा जान से मारने की बात कई दिनो से हमसे कर रही थी, क्योंकि मृतक गौरव के नाम पर उसके पिता ने प्रापर्टी कर दी थी, जिसके मरने के बाद प्रापर्टी शांति देवी की हो जाती हम लोग आपस में प्रेमी-प्रेमिका है और मैं उसी मकान में किराये पर रहता हूँ । हम दोनो में प्रेमसम्बन्ध था । शान्ति देवी ने मुझसे कहा कि गौरव बिन्द को रोहनियां अमरा अखरी लेकर पहुँचो मैं वहीं मिलुंगी । उसके कहने पर मैं गौरव उपरोक्त को साइकिल पर बैठाकर चितईपुर होते हुए रोहनियां अमरा अखरी के पास पहुँचा वहीं मेरी प्रेमिका शान्ति देवी मिली । जहाँ हम दोनो उसे अंखरी पुरानी पुलिस चौकी के पास दो ट्रकों के बीच में सुनसान देखकर मृतक गौरव उपरोक्त के गले में शान्ति देवी ने चाकू से वार कर दिया लडका जमीन पर गिर गया तथा आवाज किया तो हम दोनों ने उसके मुँह पर ईंट से मार-मार कर उसकी हत्या कर दी तथा बगल में ही पड़े गढ्ढे में उसकी लाश को फेंक कर चले गये ।”

गिरफ्तार अभियुक्त/अभियुक्ताः-

  1. विकास मोदनवाल उर्फ रसद पुत्र बालमुकुन्द मोदनवाल, निवासी खरौंझा, थाना इलिया, जनपद चन्दौली ।
    आपराधिका इतिहासः- पहले का कोई आपराधिक इतिहास नहीं है ।
  2. शान्ति देवी पत्नी स्व0 भरत बिन्द, निवासी N 12/266, जक्खा बजरडीहा, थाना भेलूपुर, वाराणसी ।
    आपराधिका इतिहासः
    क्र.सं. मु.अ.सं. धारा थाना 0452/2018 120,342,376 भादवि व ¾ पाक्सो एक्ट भेलूपुर
  3. बरामदगी का विवरण:
    खूनालूदा अभियुक्ता की साड़ी, खूनालूदा अभियुक्त का लोवर एवं स्वैटर, खूनालूदा पाँच अदद ईंट, खूनालूदा हत्या में प्रयुक्त चाकू, एक अदद साईकिल जिससे मृतक को घटना स्थल तक ले जाया गया ।
  4. गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली टीमः-
    नि. राजेश कुमार पाण्डेय, उ0नि0 अजय प्रताप यादव, चौ0प्र0 बजरडीहा, उ0नि0 वेद प्रकाश यादव, उ0नि0 अजय मिश्रा, उ0नि0 धनन्जय यादव, हे0का0 सन्तोष कुमार पाण्डेय, हे0का0 अंगद सिंह, कां0 आलोक कुमार, कां0 दिलशाद खां, म0का0 आशा सिंह, म0का0 पुनीता यादव थाना भेलूपुर, जनपद वाराणसी ।

Leave a Reply